मध्य प्रदेश में जनसंचार | Mass Communication in MP

Spread the love

राज्य में जनसंचार

• जनसंचार से आशय उन साधनों के अध्ययन एवं विश्लेषण से है, जो जनसंख्या के बड़े भागों को आपस में जोड़ते हैं, जैसे—रेडियो, टेलीविजन, दूरदर्शन, सामाचार-पत्र, पत्र-पत्रिकाएँ आदि।

राज्य में संचार विवरण अग्रलिखित है।

 

◇ आकाशवाणी-रेडियो

• राज्य में पहला आकाशवाणी केन्द्र इन्दौर में 22 मई, 1955 में स्थापित किया गया था। इसके बाद भोपाल (1956) एवं ग्वालियर (1964) में केन्द्रों को स्थापित किया गया था।

• राज्य में आकाशवाणी केन्द्रों की संख्या लगभग 20 है, जिसमें इन्दौर, भोपाल, छिन्दवाड़ा, बैतूल, शिवपुरी, रीवा, शहडोल, बालाघाट, जबलपुर, ग्वालियर एवं छतरपुर आदि प्रमुख हैं।

• प्रसारण की दृष्टि से सबसे अधिक क्षमता वाला आकाशवाणी केन्द्र इन्दौर है।

• राज्य में निजी क्षेत्रों में एफ एम सेवा, की शुरुआत रेडियो मिर्ची इन्दौर से वर्ष 2006 में प्रारम्भ हुई थी।

 

◇ दूरदर्शन

• राज्य में दूरदर्शन की शुरुआत वर्ष 1975 में रायपुर (अब छत्तीसगढ़ में) में की गई थी। राज्य में वर्ष 1972-73 में रायपुर रिले केन्द्र स्थापित किया गया।

• राज्य में रंगीन दूरदर्शन का प्रसारण 15 अगस्त, 1982 को प्रारम्भ हुआ तथा वर्ष 1984 में दूरदर्शन का मेट्रो चैनल शुरू हुआ।

• राज्य में भू-उपग्रह दूरसंचार अन्वेषण ‘गुना’ में स्थित है।

 

◇ डाकतार

• राज्य में डाकतार परिमण्डल का गठन अप्रैल, 1962 में किया गया था।

• इसका मुख्यालय नागपुर में था, बाद में इसका स्थानान्तरण वर्ष 1965 में भोपाल में कर दिया गया। वर्ष 2015-16 तक राज्य में डाकघरों की संख्या 8,318 थी।

 

◇ टेलीफोन

• राज्य में टेलीफोन संचार सेवा की शुरुआत सितम्बर, 1974 में हुई।

• राज्य में एयरटेल के नाम से प्रारम्भ की गई टेलीफोन सेवा देश की पहली निजी टेलीफोन सेवा है।

• राज्य में लगभग 2424 टेलीफोन केन्द्र स्थापित हो चुके हैं।

 

◇ समाचार पत्र-पत्रिकाएँ

• राज्य का पहला समाचार-पत्र 1840 ई. में प्रकाशित अखबार ग्वालियर (उर्दू) था।

• राज्य से वर्ष 1883 में प्रकाशित होने वाला प्रथम मासिक पत्र ‘जबलपुर समाचार’ था।

• 1887 ई. में मध्य प्रदेश के जबलपुर शहर से पण्डित रामगुलाम अवस्थी के सम्पादन में शुभ-चिन्तक पत्रिका निकाली गई थी, यह पत्रिका साप्ताहिक थी।

• हिन्दी मासिक पत्रिका नवजीवन का प्रकाशन वर्ष 1915 से इन्दौर से शुरू हुआ।

• राज्य के पहले हिन्दी दैनिक अखबार नवजीवन का प्रकाशन वर्ष 1939 में इन्दौर से हुआ था ।

• राज्य में सर्वाधिक प्रसार संख्या वाला समाचार-पत्र दैनिक भास्कर है, जबकि इन्दौर से प्रकाशित हिन्दी दैनिक समाचार-पत्र नई दुनिया राज्य में सर्वाधिक बिक्री वाला समाचार-पत्र है, जिसकी शुरुआत जून, 1947 में की गई थी।

• राज्य में हिन्दी भाषा का पहला अखबार मालवा अखबार (साप्ताहिक) था, जिसका प्रकाशन 6 मार्च, 1948 को इन्दौर से हुआ था।

• राज्य में सर्वाधिक समाचार-पत्र भोपाल तथा इन्दौर से प्रकाशित होते हैं। राज्य का एकमात्र सिन्धी समाचार-पत्र फर्ज (भोपाल से प्रकाशन) है।

• 19 जून, 1984 को प्रदेश के भोपाल जिले में माधवराव सप्रे स्मृति समाचार-पत्र संग्रहालय की स्थापना की गई।

• हिन्दी गद्य के प्रसिद्ध व्यंग्य लेखक, निबन्धकार व कहानीकार श्री हरिशंकर परसाई द्वारा जबलपुर से वसुधा पत्रिका का प्रकाशन वर्ष 1956 में किया गया था।

• राज्य की एकमात्र खेल पत्रिका ‘खेल हलचल’ है, जो इन्दौर से प्रकाशित होती है।

• राज्य वर्ष 1991 भोपाल में माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय की स्थापना की गई थी।

 

《मध्य प्रदेश की कुछ प्रमुख साहित्यिक पत्रिकाएँ और प्रकाशन स्थल》

प्रमुख साहित्यिक        प्रकाशन स्थल
पत्रिकाएँ

• शिखर वार्ता, जिन्दगी – भोपाल
• वीणा                       – इन्दौर
• वसुधा                      – जबलपुर, भोपाल,
                                    रीवा
• साक्षात्कार, पूर्वागृह,   – भोपाल
  अनन्त कलावार्ता
• आकण्ठ                    – पिपरिया
• नया विकल्प              – विदिशा, भोपाल
• यात्रा                         – कटनी
• पहल                        – जबलपुर
• आवेग कंकर              – रतलाम

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.