मध्य प्रदेश में राज्य एवं केन्द्र सरकार के प्रमुख कार्यक्रम एवं योजनाएँ- 2022

Spread the love

☆ मध्य प्रदेश में राज्य एवं केन्द्र सरकार के प्रमुख कार्यक्रम एवं योजनाएँ

 

• प्रधानमन्त्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य) केन्द्र सरकार द्वारा सितम्बर, 2017 में प्रारम्भ की गई इस योजना के अन्तर्गत राज्य के लगभग 35 लाख घरों को ऊर्जित किया जाना है।

 

• आभा योजना राज्य सरकार द्वारा रायसेन जिले से प्रारम्भ की गई है, जिसके अन्तर्गत महिला स्वसहायता समूह ने राजस्व संग्रहण, मीटर रीडिंग आदि से सम्बन्धित कार्य किए हैं। इस योजना से महिला सशक्तीकरण को बढ़ावा मिला है। वहीं दूसरी ओर उपभोक्ताओं की विद्युत सम्बन्धी समस्याओं का भी निराकरण हुआ है।

 

• स्मार्ट बिजली मोबाइल ऐप मध्य प्रदेश पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी लिमिटेड, जबलपुर द्वारा उपभोक्ताओं के लिए यह ऐप विकसित किया गया है, जिसके अन्तर्गत मुख्यमन्त्री कृषि पम्प योजना, बिजली बिल का भुगतान आदि 12 सेवाओं को शामिल किया गया है।

 

• उजाला योजना ऊर्जा संरक्षण एवं बिजली की बचत हेतु इस योजना का आरम्भ अप्रैल, 2016 में किया गया। इस योजना के अन्तर्गत ऊर्जा दक्ष उत्पादों; जैसे-एल ई डी बल्ब का वितरण किया जाएगा, जिससे प्रतिवर्ष लगभग 3300 मिलियन यूनिट्स बिजली की बचत होगी।

 

《राज्य में उपलब्ध विद्युत क्षमता》

 

विद्युत उत्पादन                   क्षमता
                                           (मेगावाट में)

1 मध्य प्रदेश पावर जेनरेटिंग       – 4,080
कम्पनी के ताप विद्युत गृह

2 मध्य प्रदेश पावर जेनरेटिंग       – 917
कम्पनी के जल विद्युत गृह

3 संयुक्त उपक्रम जल परियोजना – 2,427
(नर्मदा प्रोजेक्ट एवं अन्य )

4 केन्द्रीय विद्युत उत्पादन क्षेत्र      – 4,000
एवं DVC से प्राप्त अंश

5 निजी क्षेत्र के ताप विद्युत गृह    – 3,397
से प्राप्त अंश

6  अपारम्परिक ऊर्जा स्रोत          – 2,945

कुल उपबल्ध विद्युत क्षमता        – 17,766

 

स्रोत आर्थिक सर्वेक्षण 2017-18 (सितम्बर, 2017 में स्थिति)

Leave a Reply

Your email address will not be published.