मध्य प्रदेश सामान्य ज्ञान एक दृष्टि में | Madhya Pradesh General Knowledge 2021

Spread the love

☆मध्य प्रदेश का भौगोलिक परिद्रश्य

 

• अक्षांशीये विस्तार –    21°6′-26°30′ उत्तरी अक्षांश

• देशान्तर विस्तार-     74°9′-82° 48′ पूर्वी देशान्तर

• क्षेत्रफल –    3,08,252 वर्ग किमी

• क्षेत्रफल की दृष्टि से देश में स्थान –   दुसरा ( देश के कुल क्षेत्रफल का 9.38%)

• मध्य प्रदेश की सीमा से लगे कुल राज्य –   उत्तर प्रदेश,महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, गुजरात और राजस्थान

• कर्क रेखा राज्य के कुल कितने जिलों से होकर गुजरती है –   14 जिलों

• मध्य प्रदेश का सबसे उत्तरी जिला –   मुरैना

• मध्य प्रदेश का सबसे दक्षिणी जिला-   बुरहानपुर

 

 

☆ मध्य प्रदेश का जनसंख्या परिदृश्य

• कुल जनसंख्या –  7,26,26,809

◇ पुरुष-  3,76,12,306
◇  स्त्री –  3,50,14,503

• जनसंख्या घनत्व-  236

• लिंगानुपात-  931

• साक्षरता दर –  69.32%

 

 

☆ मध्य प्रदेश का राजनीतिक परिदृश्य

• मुख्य नाम – मध्य प्रदेश

• मध्य प्रदेश के उपनाम –  हृदय प्रदेश, लघु भारत

• स्थापना –  1 नवम्बर,1956

• पुनर्गठन –  1 नवम्बर, 2000

• जिले –  52
• सम्भाग – 10

• क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा सम्भाग –  जबलपुर

• क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा सम्भाग – नर्मदापुरम

• क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा तहसील – इन्दौर

• क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे छोटा तहसील – अजयगढ़ (पन्ना)

• प्रदेश का उच्च न्यायालय – जबलपुर

• उच्च न्यायालय की खण्डपीठें –  ग्वालियर और इन्दौर

 

 

☆ मध्य प्रदेश में संवैधानिक पदों को प्राप्त करने वाले प्रथम व्यक्ति

• मुख्यमन्त्री –  पण्डित रविशंकर शुक्ल

• राज्यपाल –  डॉ. बी पट्टाभि सीतारमैया

• महिला मुख्यमन्त्री –  सुश्री उमा भारती

• महिला राज्यपाल –  सुश्री सरला ग्रेवाल

• विधानसभा के अध्यक्ष –  पं कुंजीलाल दुबे

• विधानसभा के उपाध्यक्ष –  विष्णु विनायक सरव्टे

• उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश –  मोहम्मद  हिदायतुल्ला

• उच्च न्यायालय की महिला मुख्य न्यायधीश –   श्रीमती   सरोजनी सक्सेना

• मुख्य सचिव – एच एस कामथ

• लोक सेवा आयोग – डी बी रेगे

• वित्त आयोग के अध्यक्ष – शीतला सहाय

• महाधिवक्ता – एम अधिकारी

• राज्य निर्वाचन आयुक्त – नन्दावल्लभ लोहानी

• लोकायुक्त – पी वी दिक्षित

• पुलिस महानिदेशक – वी पी दुबे

• पुलिस महानिरीक्षक – वी जी घाटे

• महिला मुख्य सचिव – निर्मला बुच

• महिला IAS – निर्मला बुच

• महिला IPS – कु. आशा गोपाल

 

 

 

☆ मध्य प्रदेश की प्रमुख विभूतियाँ व उनकी उपाधियाँ उपनाम

• तानसेन – संगीत सम्राट

• कालिदास – भारत का शेक्सपीयर

• सन्त सिंगाजी – मालवा का कबीर

• अलाउद्दीन खाँ – सरोद सम्राट

• रानी लक्ष्मीबाई – मनु

• आचार्य केशवदास – कठिन काव्य का प्रेत

• पं. द्वारिका प्रसाद मिश्र – आधुनिक चाणक्य

• चन्द्रशेखर आजाद – शहीद

• अहिल्याबाई होल्कर – देवी , लोकमाता

• रानी अवन्तीबाई – रामगढ़ की झाँसी की रानी

• शंकर लक्ष्मण – गोली

• लक्ष्मण सिंह गौड़ – दादा

• माखनलाल चतुर्वेदी – एक भरतीय आत्मा

• कुंजी लाल दुबे – मध्य प्रदेश के विधि पुरुष

• विजयाराजे सिन्धिया – राजमाता

• लता मंगेशकर – स्वर साम्राज्ञी

• राजेन्द्र जैन – भगवान रजनीश, ओशो

• सुमित्रा महाजन – ताई

• सैयद मुस्ताक अली – कैप्टन

• अशोक कुमार – दादा मुनि

 

☆ मध्य प्रदेश के प्रमुख दिवस

• बेटी बचाओ दिवस – 5 अक्टूबर

• जनसंख्या नियन्त्रण दिवस – 11 मई

• महिला सशक्तिकरण दिवस – 18 जुन

• वृद्धजन दिवस – 1 अक्टूबर

• लोक सेवा दिवस – 25 सितम्बर

 

☆ मध्य प्रदेश सरकार द्वारा घोषित प्रमुख वर्ष

• बाँस वर्ष – 2010

• महुआ वर्ष – 2011

• ट्राफिक वर्ष – 2011

• कृषि उत्पादकता वर्ष – 2011

• सूचना प्रौद्योगिकी सशक्तिकरण वर्ष – 2013

• पर्यटन वर्ष – 2015

• गरीब कल्याण वर्ष – 2016

 

 

 

*मध्य प्रदेश के राज्य चिन्ह

◇ राजकीय पशु : बारहसिंगा
मध्य प्रदेश सरकार ने वेड्ररी प्रजाति के बारहसिंगा (हिरण) को अपना राजकीय पशु घोषित किया गया है। यह मुख्यतः राज्य के ‘कान्हा राष्ट्रीय उद्यान’ में पाया जाता है। यह प्रायः दलदले घास क्षेत्र में रहने वाला हिरण है।

 

◇ राजकीय खेल : मलखम्ब
मध्य प्रदेश का राजकीय खेल मलखम्ब है। यह भारत का एक पारम्परिक खेल है। इसमें खिलाड़ी लकड़ी के एक खम्बे या रस्सी के ऊपर तरह-तरह के करतब दिखाते हैं।

 

◇ राजकीय पक्षी : दूधराज
राज्य सरकार द्वारा दूधराज को राजकीय पक्षी घोषित किया गया है, जिसे शाह बुलबुल या पैराडाइज फ्लाई कैचर के नाम से भी जाना जाता है। भारत में यह सामान्यतः दो रंगों दूधिया सफेद एवं हल्का नारंगी रंग में पाया जाता है।

 

◇ राजकीय पुष्प : पलाश
मध्य प्रदेश का राजकीय पुष्प पलाश (सफेद लिली) है। इस फूल का व्यास सामान्यतः 6 इंच का तथा आकार तुरही के समान होता है। यह लिलियेसी कुल का सदस्य पुष्प है।

 

◇ राजकीय वृक्ष : बरगढ़
राज्य सरकार द्वारा वर्ष 1981 में बरगद को राजकीय वृक्ष घोषित किया गया था। इसे फाइकस वेनगैलेसिस के वैज्ञानिक नाम से भी जाना जाता है। भारत में बरगद के वृक्ष का अत्यधिक ऐतिहासिक, औषधीय एवं पर्यावरणीय महत्त्व है। यह भारत का भी राष्ट्रीय वृक्ष है।

 

◇ राजकीय फसल : सोयाबीन
राज्य की राजकीय फसल सोयाबीन है। यह मानव पोषण एवं स्वास्थ्य के लिए बहु उपयोगी खाद्य एवं वसायुक्त होती है। राज्य को देश की सोया राजधानी के नाम से भी जाना जाता है।

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.